Home » Eklavya Ka Angutha by Swami Adgadanand
Eklavya Ka Angutha Swami Adgadanand

Eklavya Ka Angutha

Swami Adgadanand

Published 2002
ISBN :
Paperback
24 pages
Enter the sum

 About the Book 

सदगुरु जीवन में समृदधि के साथ परमशरेय की जागृति और अनामय पद की परापति कराते हैं, जबकि शिकषक लोक-जीवन की कला सिखाते हैं | इस तथय की ओर इंगित करने वाली पुसतिका - एकलवय का अंगूठा |Moreसद्गुरु जीवन में समृद्धि के साथ परम्श्रेय की जागृति और अनामय पद की प्राप्ति कराते हैं, जबकि शिक्षक लोक-जीवन की कला सिखाते हैं | इस तथ्य की ओर इंगित करने वाली पुस्तिका - एकलव्य का अंगूठा |